विश्वविद्यालय के कार्य

106

विश्वविद्यालय के कार्य – विश्वविद्यालय (युनिवर्सिटी) वह संस्था है जिसमें सभी प्रकार की विद्याओं की उच्च कोटि की शिक्षा दी जाती हो, परीक्षा ली जाती हो तथा लोगों को विद्या संबंधी उपाधियाँ आदि प्रदान की जाती हों। इसके अंतर्गत विश्वविद्यालय के मैदान, भवन, प्रभाग, तथा विद्यार्थियों का संगठन आदि भी सम्मिलित हैं।

विश्वविद्यालय के कार्य

विश्वविद्यालय के चार प्रमुख कार्य होते हैं –

  1. शिक्षा
  2. अनुदान
  3. सम्बद्धता
  4. प्रसार

1. शिक्षा

विश्वविद्यालय का प्रमुख कार्य शिक्षा प्रदान करना है। विश्वविद्यालय, संस्थान कालेजों के माध्यम से शिक्षा को प्रदान करते हैं। बेरोजगारी की समस्या के कारण आज छात्रों की भीड़ विश्वविद्यालय की तरफ इस उम्मीद से उम्र नहीं है कि शायद कोई अच्छा पाठ्यक्रम उन्हें किसी रोजगार को दिलाने में सहायक हो। इसी कारण की वजह से प्रातः कालीन एवं सायं कालीन कक्षाएं डाक द्वारा शिक्षण आदि का प्रचार हो रहा है। इसी कारण से आजकल छात्रों का उत्तीर्ण होने का प्रतिशत काफी कम हो रहा है। इसी संदर्भ में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग का कहना है-

सार्वजनिक फंड का दुरुपयोग प्रतिवर्ष हो रहा है और हालत दिन-प्रतिदिन खराब हो रही है। इससे एक ओर धन का नाश तथा दूसरी ओर छात्रों व अभिभावकों के श्रम तथा शक्ति का अपव्यय एवं आकांक्षाओं का तुषाराघात हो रहा है।

शिक्षा के पूर्ण विकास के लिए विश्वविद्यालयों में सुविधाओं का होना आवश्यक है।

विश्वविद्यालय के कार्य
विश्वविद्यालय के कार्य

2. अनुसंधान

विश्वविद्यालय का दूसरा प्रमुख कार्य छात्रों को अनुसंधान कार्य की ओर अग्रसर करना है। हमारे देश में मौलिक बौद्धिक अनुसंधानो का अभाव रहा है। स्नातकोत्तर स्तर पर अनुसंधान के विषय में निम्न आवश्यकता है –

  1. बहुत से विश्वविद्यालय व कॉलेज स्नातकोत्तर विषय को पढ़ाने का कार्य प्रारंभ तो कर देते हैं परंतु उनके पास ना तो उचित साधन होते हैं और ना ही योग्य शिक्षक होते हैं। इस कारण से इस स्तर पर शिक्षा का स्तर गिर जाता है, जिन विद्यार्थियों को किसी अच्छे संस्थान में प्रवेश नहीं मिल पाता वह इस प्रकार के संस्थान में प्रवेश ले लेते हैं और इससे शिक्षा के स्तर पर बुरा प्रभाव पड़ता है।
  2. विश्वविद्यालय को स्नातकोत्तर कक्षाएं चलाने से पहले सभी संभावनाओं पर पूर्ण विचार करना चाहिए।
  3. स्नातकोत्तर शिक्षण कार्य व अनुसंधान अंतरराष्ट्रीय स्तर के होने चाहिए।
  4. अनुसंधान के लिए रिसर्च सेंटर की स्थापना की जानी चाहिए।
दूरस्थ शिक्षा, विश्वविद्यालय के कार्य
विश्वविद्यालय के कार्य

3. सम्बद्धता

भारत के विश्वविद्यालय का एक अन्य प्रमुख कार्य संबद्धता होता है। हमारे विश्वविद्यालय 40 के लगभग कॉलेजों को संबोधित करते हैं। इसीलिए यूजीसी शिक्षा के लिए कॉलेजों के स्तर को ऊंचा करने पर विचार कर रही है।

उच्च शिक्षा समस्याएं

4. प्रसार

विश्वविद्यालय के प्रमुख कार्यों में प्रसार भी है। प्रसार में दो कार्यक्रम प्रमुख हैं-

  1. प्रौढ़ शिक्षा – इसके लिए शिक्षा को प्रचलित रूप प्रदान किए जाएं। विद्यार्थियों को नियमित कक्षा अध्ययन करना चाहिए तथा विशेषज्ञों को उनके क्षेत्र में प्रशिक्षण तथा नेतृत्व प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करने चाहिए।
  2. सामुदायिक सेवा – विश्वविद्यालय में शिक्षा के प्रति रुचि को उत्पन्न करने के लिए सामुदायिक केंद्र खोलने चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.