समूह गतिशीलता

समूह गतिशीलता डायनॉमिक्स भौतिक शास्त्र से लिया गया है। डायनॉमिक्स ग्रीक भाषा से लिया गया है जिसका अर्थ है शक्ति। इस प्रकार समूह गत्यात्मकता समूह में छिपी हुई शक्ति के अध्ययन से संबंधित विषय है। समूह गति विज्ञान उन विषयों का ज्ञान देता है जो एक समूह में सक्रिय होती हैं। उन व्यक्तियों का अध्ययन समूह गति विज्ञान का अन्वेषण का विषय होता है।

यह अन्वेषण उस दिशा में होते हैं जिससे पता चल जाए कि शक्तियां किस प्रकार उभरती हैं, किन देशों में यह शक्तियां सक्रिय होती हैं, इनके क्या परिणाम होते हैं और किस प्रकार से उनका रूपांतरण किया जा सकता है अर्थात समूह गति विज्ञान वह विज्ञान है जो समूह को गतिशील करने वाली शक्तियों का अध्ययन करता है।

समूह गतिशीलता परिभाषा

समूह गतिशीलता के अध्ययन में इसे समूह गत्यात्मकता, समूह मनोविज्ञान के नाम से भी संबोधित किया गया है।

समूह गति विज्ञान उन शक्तियों की जानकारी प्रदान करता है जो एक समूह में सक्रिय होती हैं।

समूह गतिकी अध्ययन का एक ऐसा क्षेत्र है जो उन बलोया दबावों पर प्रकाश डालता है जिनसे छोटे समूह में व्यक्तियों का व्यवहार प्रभावित होता है।

Career After 12th, समूह गतिशीलता

समूह गतिशीलता की विशेषताएं

समूह गतिशीलता व निर्देशन एक पृथक सेवा के रूप में अपना अस्तित्व नहीं रखता है किंतु यह निर्देशन कार्यक्रम के आधारभूत तत्व को मितव्ययिता, कुशलता एवं प्रभावशाली ढंग से पूर्ण करने का एक साधन है।

यह तो निर्देशन की एक रीति है जिसके द्वारा छात्रों को उनके विकास में सहायता प्रदान की जाती है। सामूहिक गतिशीलता क्रियाओं की शक्ति बढ़ाने में योग देती है। यह तो अन्य क्रियाओं की सहयोगी मात्र हैं। वह किसी क्रिया का स्थान नहीं लेती हैं। यहां पर समूह एवं व्यक्तिगत निर्देशन की तुलनात्मक उपयोगिता के विवादास्पद विषय पर अधिक ना लिखकर सामूहिक निदेशक द्वारा सेवित उद्देश्यों पर विचार करना उपयुक्त होगा।

समूह गतिशीलता के लक्ष्य या उद्देश्य विद्यालय के स्तर प्रसाद की दर्शन विद्यार्थियों की आवश्यकताओं एवं विद्यालय में उपलब्ध प्रशिक्षण निर्देशन कर्मचारियों द्वारा प्रभावित हुआ निश्चित होते हैं। कक्षा कक्ष में सामूहिक गतिशीलता की विशेषताएं निम्न है –

  1. आत्मविश्वास का विकास
  2. अतिरिक्त सहायता की आवश्यकता वाले छात्रों का ज्ञान
  3. सामाजिक कुशलता का विकास
  4. अधिकांश छात्रों के साथ परामर्शदाता का संपर्क स्थापन
  5. छात्रों की चिंताओं और तनाव में कमी
  6. परामर्शदाता की कुशलता में वृद्धि
  7. विविध शैक्षिक अनुभवों को समन्वित करने के लिए
  8. व्यक्तिगत परामर्श की तत्परता की तैयारी

1. आत्मविश्वास का विकास

जब समुचित रूप से संगठित समूह में नवयुवकों को अपनी संबंधित रुचियों, भावात्मक, प्रतिक्रियाओं एवं अभिलाषाओं पर विचार करने का अवसर प्राप्त होता है। तो वह अनुभव करने लगते हैं कि उनकी समस्याओं में अधिकांशतः ऐसी है जो उनकी आयु के छात्रों द्वारा अनुभव की जाती है। समूह गतिशीलता का ज्ञान छात्रों में शक्ति एवं आत्मविश्वास को बढ़ाने में सहायक होता है।

2. अतिरिक्त सहायता की आवश्यकता वाले छात्रों का ज्ञान

सामूहिक गतिशीलता निर्देशन में भाग लेने वाले सदस्यों में से जैसे छात्रों को पहचानना सरल होता है जिनको व्यक्तिगत सहायता की अधिक आवश्यकता होती है।

3. सामाजिक कुशलता का विकास

सामूहिक परिस्थितियों में छात्रों को परस्पर मिलने झुलने, मौखिक विचार विमर्श करने एवं किसी कार्य की सामूहिक रूप से योजना बनाने के अवसर प्राप्त होते हैं। समूह गतिशीलता अर्थात् सामूहिक रूप से कार्य करने से छात्रों में परस्पर सहयोग और सहकारिता की भावना विकसित होती है।

व्यावसायिक निर्देशन, शैक्षिक पर्यवेक्षण, समूह निर्देशन

4. अधिकांश छात्रों के साथ परामर्शदाता का संपर्क स्थापना

सामूहिक निर्देशन द्वारा छात्रों का डरपोक व शर्मिला पन दूर होता है वह अपने परामर्शदाता के निकट संपर्क में आते हैं। उनको फिर परामर्शदाता से व्यक्तिगत संपर्क स्थापित करने में कोई भय या बाधा नहीं होती है। किंतु जब वे सामूहिक कार्यों में परामर्शदाता के व्यवहार का अवलोकन करते हैं तो उनको अपने दृष्टिकोण में परिवर्तन करना पड़ता है। इसके साथ ही परामर्शदाता भी अनेक छात्रों एवं उनकी समस्याओं से अवगत होकर उनकी उत्तम सेवा करने की स्थिति में अपने को पाता है।

5. छात्रों की चिंताओं और तनाव में कमी

कुछ छात्र भावात्मक दृष्टि से इतने अधिक विचलित हो जाते हैं कि अपना दैनिक कार्य नहीं कर पाते हैं। वे कठिन स्थितियों या दशाओं में अशांत हो जाते हैं। ऐसे छात्र चिंताओं से ग्रसित एवं मानसिक तनाव की बीमारी से जकड़े हुए होते हैं। इनका उपचार सामूहिक निर्देशन या सामूहिक गतिशीलता द्वारा ही संभव है। यहां मित्रता पूर्ण एवं इसने युक्त वातावरण स्पष्ट वार्तालाप के लिए प्राप्त होता है।

6. परामर्शदाता की कुशलता में वृद्धि

समूह गतिशीलता के माध्यम से परामर्शदाता ने छात्रों के संपर्क में आता है। परिणाम स्वरूप यह अनेक छात्रों की आवश्यकताओं से परिचित होता है। छात्रों की आवश्यकताओं का ज्ञान परामर्शदाता को निर्देशन सेवा में सुधार करने की प्रेरणा एवं प्रोत्साहन देता है।

7. विविध शैक्षिक अनुभवों को समन्वित करने के लिए

सामूहिक निर्देशन विधि विविध शैक्षिक अनुभवों को समन्वित रूप से प्रदान करने में सहायक बनती है। सामूहिक निर्देशन में छात्रों की समस्याओं पर वार्तालाप एवं प्रतिक्रियाओं के स्पष्टीकरण से विद्यालय कार्यक्रम के समस्त तत्वों के मध्य एक स्वाभाविक संबंध स्थापित होता है।

8. व्यक्तिगत परामर्श की तत्परता की तैयारी

समूह में छात्रों को अनेक सामूहिक अनुभव अर्जित करने का अवसर प्राप्त होता है। छात्रों की अनेक समस्याएं समूह में वार्तालाप एवं विचार विनिमय द्वारा स्पष्ट हो जाती हैं। किंतु कुछ समस्याएं या मानसिक तनाव जो सामूहिक अनुभव द्वारा इस वर्ष नहीं हो पाते उनके समाधान के लिए छात्रों में व्यक्तिगत परामर्श प्राप्त करने की तत्परता बढ़ती है।

निर्देशन अर्थ उद्देश्य विशेषताएंव्यावसायिक निर्देशन
भारत में निर्देशन की समस्याएंशैक्षिक निर्देशन
शैक्षिक व व्यावसायिक निर्देशन में अंतरएक अच्छे परामर्शदाता के गुण व कार्य
परामर्श अर्थ विशेषताएं उद्देश्यसमूह निर्देशन
व्यक्तित्वसमूह गतिशीलता
समूह परामर्शसूचना सेवा
बुद्धिरुचि

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.