Blog

Jan
08

दशमलव एवं दशमलव संक्रियाएं

भिन्न (a/b) में b से a को भाग करने पर शेषफल 0 प्राप्त होने तक प्राप्त भागफल दशमलव संख्या प्राप्त होती है। दशमलव संख्या से भिन्न को प्राप्त किया जा सकता है। दशमलव भिन्न दशमलव युक्त संख्याओं को जब भिन्न के रूप में परिवर्तित किया जाता हैं, तो हमें दशमलव भिन्न प्राप्त होती है। दशमलव […]

By Sarkari Focus | गणित
DETAIL
Jan
08

प्रतिशत और प्रतिशतता

किसी भी संख्या को प्रतिशत में तथा प्रतिशत को संख्या में निम्न प्रकार बदला जा सकता है। प्रतिशत प्रतिशत शब्द का शाब्दिक अर्थ है प्रति सौ या प्रति सैकड़ा। प्रतिशत गणित में किसी भिन्न को व्यक्त करने का एक तरीका है। उदाहरण के लिए,  किसी विद्यार्थी को 50 में से 30 अंक मिले तो उसे भिन्न […]

By Sarkari Focus | गणित
DETAIL
Jan
07

प्राइमरी स्कूल अवकाश सूची

उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद के नियंत्रण अधीन संचालित विद्यालय एवं मान्यता प्राप्त बेसिक विद्यालयों में वर्ष 2021 के लिए अनुमन्य प्राइमरी स्कूल अवकाश सूची नीचे दी जा रही है। प्राइमरी स्कूल अवकाश सूची प्राइमरी स्कूल अवकाश सूची के अनुसार ही वर्ष 2021 में विद्यालयों में अवकाश देय हैं। क्रमांक अवकाश का नाम दिनों की […]

By Sarkari Focus | Other Activity
DETAIL
Jan
07

भिन्न एवं संक्रियाएं

भिन्न एक ऐसी संख्या है जो किसी सम्पूर्ण चीज़ का कोई भाग निरुपित करती है। जिसे परिमेय संख्या भी कहते हैं। जैसे: एक सेब के चार भाग किये जाते है, जिनमें से उनके एक हिस्से को निकाल दिया गया है। तो उसे ¼ के रूप में प्रदर्शित किया जाता हैं। जबकि शेष बचे भाग को […]

By Sarkari Focus | गणित
DETAIL
Jan
07

महत्तम तथा लघुत्तम समापवर्त्य

बड़ी से बड़ी वह संख्या जो दी गयी संख्याओ को पूर्णता विभाजित कर दे उसे उन संख्याओ का म.स. कहते है। दो या दो से अधिक संख्याओं का लघुत्तम समापवर्त्य (ल. स.) वह छोटी से छोटी संख्या या न्यूनतम घात वाला व्यंजन है जो दी गई सभी संख्याओं से पूर्णता विभाजित हो जाता है | […]

By Sarkari Focus | गणित
DETAIL
Jan
07

संख्याएं एवं संक्रियाएं

जिस पद्धति से संख्याओं को लिखा जाता है और उसका मान प्राप्त किया जाता है उसे संख्या पद्धति कहते है। संख्याओ के प्रकार संख्याओ का योग विभाजिता के नियम पहाड़ा इकाई का अंक ज्ञात करना

By Sarkari Focus | गणित
DETAIL
Jan
06

Caste system and Social Reform

The caste system based on profession gradually developed and became rigid. While the Brahmans the Kshatriyas and the Vaisyas enjoyed a higher status, the condition of the Shudras and the Chandalas was pitiable. The Chandalas were supposed to live outside the villages. They were barred from drawing water from the wells used by the upper […]

By Sarkari Focus | History
DETAIL
Jan
06

Law Making

In ancient India, there were many overlapping local laws. Different communities enjoyed different degrees of autonomy in administering Law Making That is why, some scholars believe that it was the British colonialists who introduced the rule of law in India. However, some historians do not agree with this view. They refuse this claim on the […]

By Sarkari Focus | Polity
DETAIL