महँगाई की समस्या

भारत की आर्थिक समस्याओं के अंतर्गत महँगाई की समस्या बहुत विकराल समस्या है । वस्तुओं के मूल्य इतनी तेजी से बढ़ रहे हैं कि आम आदमी को जीवनयापन करना दूभर हो गया है । बढ़ती महँगाई का चित्रण काका हाथरसी ने इन पंक्तियों में किया है वे दिन आते याद जेब में पैसे रखकर , सौदा लाते थे बाजार से थैला भरकर । धक्का मारा युग ने मुद्रा की क्रेडिट में , थैले में रुपए हैं , सौदा है पाकिट में ।। महँगाई के कारण मूल्य वृद्धि के अनेक कारण हैं जिनमें जनसंख्या की वृद्धि , कृषि उत्पादन, व्यय में वृद्धि, उत्पादकों तथा व्यापारियों की अधिक लाभ कमाने की प्रवृत्ति , मुद्रा – प्रसार एवं स्फीति , देश में बढ़ता …

महँगाई की समस्या Read More »