आधुनिक हिन्दी काव्य

यूनिट 1

यूनिट 2

यूनिट 1 के अंतर्गत कुल 6 कवियों की कविताओं के बारे में अध्ययन करना है। परीक्षा में कविताओं से संबंधित प्रश्न पूछे जा सकते हैं। कभी-कभी कवियों से भी संबंधित प्रश्न पूछ लिए जाते हैं।

यूनिट 2 में 4 द्रुत पाठ है। द्रुत पाठ आधुनिक हिंदी काव्य का महत्वपूर्ण यूनिट है। जिसमें कुल 4 कवियों के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्राप्त करनी है।

  1. मैथिलीशरण गुप्त
  2. जयशंकर प्रसाद
  3. सूर्यकांत त्रिपाठी निराला
  4. सुमित्रानंदन पंत
  5. महादेवी वर्मा
  6. रामधारी सिंह दिनकर
  1. श्रीधर पाठक
  2. माखनलाल चतुर्वेदी
  3. बालकृष्ण शर्मा नवीन
  4. सुभद्रा कुमारी चौहान
Course
Materials

आधुनिक हिंदी काव्य, कई विश्वविद्यालय के बी॰ ए॰ पाठ्यक्रम के हिंदी साहित्य विषय का एक प्रश्न पत्र है। हिन्दी काव्य का आधुनिक काल 1850 से आरम्भ होता है। इसी युग मे हिन्दी पद्य के साथ साथ गद्य का भी विकास हुआ। जन संचार के विभिन्न साधनों जैसे रेडिओ व समाचार पत्र का विकास इसी समय हुआ था। जिसका प्रभाव आधुनिक हिन्दी काव्य पर भी पड़ा।

आधुनिक हिन्दी कविता का आरंभ 19वीं शती के उत्तरार्द्ध में हुआ था। यह वह समय था जब भारतेन्दु हरिश्चन्द्र सक्रिय थे। इस समय बंगाल, महाराष्ट्र और पंजाब में सामाजिक-सांस्कृतिक सुधार आन्दोलन की गूंज चारों दिशाओं में फैल रही थी। इस धर्म-समाज सुधारक आन्दोलन की गतिविधियों से हिन्दी साहित्य भी काफ़ी प्रभावित हुआ। कविताओं के माध्यम से नवजागरण यानी फिर से सजग होने की अवस्था या भाव, की अभिव्यक्ति हुई। भारतेन्दु युग और द्विवेदी युग की रचनाएं नवजागरण का स्रोत और माध्यम रही हैं। यह युग हिन्दी के मध्य से सर्वथा भिन्न था और आधुनिक युग के रूप में अपनी नयी पहचान बना सका। हिन्दी की आधुनिक कविता की प्रक्रिया इसी युग से शुरु होती है।

आधुनिक हिन्दी काव्य प्रश्न पत्र

  • आधुनिक हिन्दी काव्य प्रश्न पत्र
  • आधुनिक हिन्दी काव्य कोर्स
  • आधुनिक हिन्दी काव्य प्रैक्टिस पेपर

Course Content

Expand All
निर्धारित कवि व उनकी रचनायें
द्रुत पाठ
Not Enrolled

Course Includes

  • 2 Units
  • 10 Topics
  • 11 Tests
  • Course Certificate

Responses

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.